यदा यदा ही धर्मस्य-yada yada hi dharmasya

यदा यदा ही धर्मस्य

श्रीमदभगवतगीता के बारे में यहाँ पे पांच चुनिन्दा यदा यदा ही धर्मस्य जैसे श्लोको के अर्थ और श्लोक बताये है जो आपको पसंद आएगा । || ॐ श्री कृष्णाय नम: || श्रीमद भगवतगीता -यदा यदा ही धर्मस्य yada yada hi dharmasya hindi meaning श्रीमदभगवतगीता  मानव जीवन से सबंधित ज्ञान का एक संकलन है। जो भगवान् श्री कृष्ण ने अर्जुन को सुनाई … Read more

Spread the love